हृदय रोगों के प्रकार।

कोरोनरी आर्टिरी डिजीज (CAD)- इसका काम हार्ट को ऑक्सीजन देने का होता है जब इसके पट्टिका में जमाव हो जाता है तो ये बुरी तरह से छतिग्रस्त हो जाती ह।

अतालता (arrhythmia) - इसमें दिल की धड़कन अनियमित रूप से धड़कती है इस िस्थति को टेकिकार्डिया भी कहा जाता है।

कार्डिओमायोपैथी - इसमें हार्ट की मांसपेशियां कभी छोटी और कभी मोती हो जाती है ।

हार्ट इन्फेक्शन्स - इसमें बैक्ट्रिया की बजह से हार्ट में इन्फेक्शन हो जाता है।

जन्म जात ह्रदय दोष - ये दोष व्यक्ति के जन्म से ही होती है इसमें व्यक्ति के दो दिल या दिल में छेद होता ही।

आमवाती रोग -  इसमें दिल के वाल्वो को नुकसान हो जाता है और ये आमवाती बुखार के कारण होता है।